* रोजे में जबरन रोटी खिलाने पर संसद में हंगामा*करारी हार और बगावती तेवरों से परेशान कांग्रेस*मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारे परोसेंगे अब मिडडे मील*गाजा में हर घंटे एक बच्चे की मौत
Friday 25th 2014 July
तहसील बार एसोसिएशन के अधिवक्ताओं ने बैठक की। »
तहसील बार एसोसिएशन के अधिवक्ताओं ने बैठक की। जिसमें डीएम द्वारा निर्धारित वर्तमान मूल्यांकन सूची की दरों में वृद्धि किए जाने पर रोक लगाने की मांग की। साथ ही तहसील में विभिन्न समस्याएं भी उठाई। डीएम को संबोधित आठ सूत्रीय ज्ञापन उपनिबंधक को सौंपा। अध्यक्ष एम आलम सिद्दीकी की अध्यक्षता में हुई बैठक में वकीलों ने कहा कि मूल्यांकन सूची में पहले से ही दरें अधिक हैं। इससे जनता पर अधिक राजस्व देयता का बोझ बढ़ेगा। उपनिबंधक कार्यालय में कंप्यूटरों की कमी है। दोनों कंप्यूटर चालू कराने के साथ दो अतिरिक्त कंप्यूटर लगवाए जाएं। ऋण जमा होने पर तत्काल खतौनी पर अंकित कराने की व्यवस्था हो। दाखिल खारिज के वादों में लेखपाल की हस्तांतरण रिपोर्ट निश्चित अवधि में लगवाए जाने की व्यवस्था हो। आय, जाति व निवास प्रमाण पत्रों के साथ नोटरी शपथ पत्र अनिवार्य किया जाए और मैनुअल प्रमाण पत्र भी जारी किए जाएं। कम स्टांप के मुकदमे एसडीएम न्यायालय में स्थानांतरित कराए जाएं।
सोने की चमक फीकी, चांदी में उछाल »
अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पीली धातु की चमक फीकी पड़ने और घरेलू स्तर पर सरकार के स्वर्ण आयात मूल्य में कमी करने से बीते सप्ताह दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना 300 रुपए लुढ़ककर 27,100 रुपए प्रति 10 ग्राम पर आ गया जबकि औद्योगिक मांग निकलने से चांदी 275 रुपए उछलकर 40,625 रुपए प्रति किलोग्राम बोली गई। बाजार विश्लेषकों के मुताबिक बीते सप्ताह वैश्विक स्तर पर शेयर बाजार में जारी तेजी वयूरोपीय केंद्रीय बैंक ब्याज दरों में कटौती करने से निवेशक बाजार से दूर हो गए, हालांकि इस दौरान अमेरिका में रोजगार के मजबूत आंकड़े आने से वहां के बाजारों में तेजी देखी गई। समीक्षाधीन अवधि में वैश्विक स्तर पर करीब पूरे सप्ताह जारी गिरावट और घरेलू स्तर पर स्वर्ण आयात मूल्य में कमी करने तथा मांग सुस्त पड़ने से सोने पर दबाव देखा गया। सप्ताहांत पर स्टैंडर्ड 300 रुपए गिरकर 27,100 रुपए प्रति 10 ग्राम पर आ गया।
सानिया मिर्जा- मैं मरते दम तक भारतीय रहूंगी.......'»

नई दिल्ली। टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा ने तेलंगाना प्रांत का ब्रांड एंबेसेडर बनाए जाने के विरोध के बीच कहा कि वे मरते दम तक भारतीय रहेंगी। उल्लेखनीय है कि तेलंगाना के मुख्‍यमंत्री चंद्रशेखर राव के फैसले का उनकी पार्टी में ही विरोध हो रहा है, जबकि स्थानीय भाजपा नेताओं ने भी इसका कड़ा विरोध किया है।

सानिया ने दुखी स्वर में कहा कि इस विवाद में कीमती समय बर्बाद किया जा रहा है। मीडिया में भी इस मामले की जरूरत से ज्यादा चर्चा हो रही है। हमारे बड़े-बड़े नेता भी इस विवाद में अपना वक्त जाया कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि वे मरते दम तक भारतीय रहेंगी।

सानिया ने एक बयान में कहा, 'मैं बहुत दुखी हूं कि मुझे मेरे राज्य तेलंगाना का ब्रांड दूत बनाए जाने के छोटे से मसले पर मीडिया और बड़े राजनीतिज्ञों का इतना बहुमूल्य समय बर्बाद हो रहा है। मेरा मानना है कि यह कीमती समय राज्य और देश के और जरूरी मसलों को सुलझाने पर खर्च होना चाहिए। उन्होंने कहा कि उनके पूर्वजों ने हैदराबाद Click here to see more news from this city को काफी कुछ दिया है और मलिक से शादी के बावजूद वह भारत की नागरिक है।

यदि जीना चाहते हैं 150 वर्ष, तो जानिए 5 उपाय....'»

जीने की इच्छा किस में नहीं रहती? स्वस्थ रहकर आप 100 साल तक भी जी लिए तो इससे बेहतर जिंदगी का कोई दूसरा अचीवमेंट शायद नहीं हो सकता। लेकिन आजकल 50 के बाद लोग ब्लड प्रेशर, हार्ट अटैक, डायबिटीज आदि बीमारियों के अलावा कैंसर जैसी गंभीर बीमारी की चपेट में भी आ जाते हैं। क्या है इसका कारण और क्या है इसके निदान जानेंगे अगले पन्नों पर।

 

 

चीन में उतरवाई भारतीयों की पगड़ी, अमेरिका नाराज... »

चीन एक अंतरराष्ट्रीय बॉस्केटबॉल प्रतियोगिता में भारत से गए सिख खिलाड़ियों से पगड़ी उतारने को कहे जाने की खबरों से स्तब्ध शीर्ष अमेरिकी सांसदों ने एक अभियान छेड़ते हुए फीबा से कहा है कि वह अपनी भेदभावपूर्ण नीति की समीक्षा करे।

अंतरराष्ट्रीय बॉस्केटबॉल संघ (फीबा) के अध्यक्ष वाई मेनिनी को लिखे पत्र में कहा गया कि हम उन खबरों को लेकर चिंतित हैं जिनमें ये संकेत मिल रहे हैं कि सिख खिलाड़ी पगड़ी पहनकर फीबा के खेल नहीं खेल सकते जबकि ये (पगड़ी) उनके धर्म के अनुसार जरूरी है। हम आपसे आपकी भेदभावपूर्ण नीति को बदलने के लिए कहते हैं।

कांग्रेस सदस्य जो. क्राउले के नेतृत्व में यह पत्र बुधवार को अमेरिकी कांग्रेस में वितरित किया गया। भारतीय-अमेरिकी कांग्रेस सदस्य एमी बेरा ने उप प्रमुख के रूप में इस पत्र पर हस्ताक्षर किए हैं।

माईग्रेन के अचूक देसी इलाज, जानिए क्या कहते हैं आदिवासी हर्बल जानकार?... »

माईग्रेन ज्यादातर सिर के बाएं अथवा दाहिने भाग में होता है, यानि सिर के एक ही हिस्से में दर्द महसूस होता है। इसलिए इसे आधा सिर दर्द भी कहा जाता है। कभी-कभी यह दर्द ललाट और आंखों पर भी स्थिर हो जाता है। कहा जाता है कि माईग्रेन का दर्द सुबह उठते ही प्रारंभ हो जाता है और सूरज के चढ़ने के साथ यह बढ़ता जाता है। दोपहर के बाद दर्द में कमी हो जाती है।

Jamamasjid in Amroha
This great mosque of Amroha is the largest in India, with a courtyard capable of holding 25,000 devotees. It was begun in 1644 and ended up being the final architectural extravagance of Mughal.
read more »
back forth
Degree Colleges in Amroha read more »
J.S.P.G. College.. Nayab Abbasi Girs Degree College Hasmi Law College
Inter Colleges in Amroha read more »
J.S. Inter College Govt. Inter College  
back forth
Select Categories
 
 
 
DANIYA
7 साल की उम्र में किया पूरा ,क़ुरान ए पाक
 
 
 
 
 
 
 
All right reserved 2012-2013 Amroha Online